Nazar-nazar Mein Utarna

Nazar-nazar Mein Utarna Kamaal Hota Hai
Nafas-nafas Mein Bikharna Kamaal Hota Hai
Bulndiyon Pe Pahunchana Koi Kamaal Nahin
Bulndiyon Pe Thahrana Kamaal Hota Hai.

 

नज़र-नज़र में उतरना कमाल होता है नफ़स-नफ़स में बिखरना कमाल होता है
बुलंदियों पे पहुँचना कोई कमाल नहीं बुलंदियों पे ठहरना कमाल होता है।

———-

Mushkilon Se Bhaag Jaana Aasaan Hota Hai,
Har Pahlu Jindagi Ka Imtihaan Hota Hai,
Darane Vaale Ko Milata Nahin Kuchh Jindagi Mein,
Jitane Vaalon Ke Kadamon Mein Jahaan Hota Hai.

 

मुश्किलों से भाग जाना आसान होता है, हर पहलू जिंदगी का इम्तिहान होता है,
डरने वाले को मिलता नहीं कुछ जिंदगी में, जीतने वालों के कदमों में जहान होता है।

———-

Ghar-baar Na Hamaara, Na Koi Thikaana,
Gardish Mein Hain Sitaare, Na Paas Hai Khajaana,
Par Thaath Dekho Apni Ham Dilon Mein Rahate Hain,
Haathon Mein Hai Mukaddar, Kadmon Mein Hai Jamaana.

 

घर-बार न हमारा, न कोई ठिकाना, गर्दिश में हैं सितारे, न पास है खजाना,
पर ठाठ देखो अपनी हम दिलों में रहते हैं, हाथों में है मुकद्दर, कदमों में है जमाना।

———-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *